8th Pay Commission: कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, यहां से जाने पूरी जानकारी Ottvibe

Suman
4 Min Read


कर्मचारियों को दिए जाने वाले महंगाई भत्ते में 50 फ़ीसदी तक की वृद्धि हो चुकी है, और इसके साथ ही एचआर का पुनः संशोधन भी हो चुका है। सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले बहुत ही अच्छे समाचारों के अनुसार, कर्मचारियों के लिए अब तक प्राप्त अनुदान में वृद्धि होगी।मार्च माह में महंगाई भत्ते में 50 फ़ीसदी की वृद्धि के कारण, केंद्रीय कर्मचारियों के बीच कई सवाल उठे हैं। अब महंगाई भत्ते में वृद्धि के कारण, अब महंगाई भत्ता पूरी तरह से समाप्त कर दिया जाएगा, और साथ ही, एचआर की भी पुनः संशोधन किया गया है।अब, केंद्रीय कर्मचारियों का मुख्य प्रश्न यह है कि महंगाई भत्ते का बिलकुल समाप्त होने पर एचआर क्या होगा। इस प्रश्न के उत्तर के साथ, हम और जानकारी प्राप्त करें।

8th Pay Commission

8th Pay Commission

महंगाई भत्ते को शून्य किया जाएगा इस प्रकार की विवादित चर्चाएं अभी चल रही हैं, और नियमों के अनुसार यह समझा जा रहा है कि शायद ही महंगाई भत्ते को फिर से शून्य किया जाए, लेकिन जैसा कि अभी तक 50 फीसदी तक महंगाई भत्ता पहुंच चुका है और अभी ऑफिशियल रूप से महंगाई भत्ते को शून्य करने से संबंधित कोई भी सूचना जारी नहीं की गई है। लेकिन नियमों के अनुसार कहा जा रहा है कि जुलाई के बाद में महंगाई भत्ते को शून्य किया जाएगा। अनेक केंद्रीय कर्मचारियों को लग रहा है कि इस बार ही 50 फीसदी महंगाई भत्ता पहुंच जाने पर उसे शून्य से लागू कर दिया जाएगा, लेकिन अब उम्मीदवारों को इंतजार जुलाई महीने का है क्योंकि जुलाई के महीने से फिर से नए महंगाई भत्ते को लागू किया जाएगा और यदि महंगाई भत्ते को शून्य किया जाता है तो शून्य किया जाने वाला महंगाई भत्ता जुलाई से ही लागू किया जाएगा।

महंगाई भत्ता कब हो सकता है शून्य

महंगाई भत्ते के लागू होने की तिथि के संदर्भ में, जनवरी और जुलाई माह से यह वित्तीय उपाय अमल में लाया जाता है। वर्तमान में, जनवरी माह से 50% महंगाई भत्ता लागू किया गया है, जिसकी घोषणा मार्च महीने में की गई थी। अब, नए महंगाई भत्ते को जुलाई से लागू किया जाएगा, जिसकी घोषणा सितंबर या अक्टूबर के महीने में की जाएगी। हालांकि, अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है कि महंगाई भत्ता शुन्य किया जाएगा, क्योंकि इसका आधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है।

Aadhaar Bank Account Link Status

यदि ऐसा होता है, तो इसे लागू करने से पहले सूचना दी जाएगी, और उसके बाद इसे जुलाई महीने से लागू किया जाएगा, जैसा कि हर बार किया गया है। सभी केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ते के संबंध में कंफर्म सूचना सितंबर या अक्टूबर के महीने में ही दी जाएगी, क्योंकि पिछले कई बार सितंबर या अक्टूबर महीने में ही महंगाई भत्ते की बढ़ोतरी की घोषणा की गई है।

एचआर में बदलाव

एचआर की परिभाषा को समझने के लिए, महंगाई भत्ते की कैलकुलेशन को समझना आवश्यक है। जब महंगाई भत्ता जीरो से लेकर 24% तक होता है, तो एचआर 24, 16, 8% रहता है। महंगाई भत्ता 25% तक पहुंचता है, तो एचआर 27, 18, 9% हो जाता है। जब महंगाई भत्ता 50% होता है, तो एचआर 30, 20, 10% हो जाता है। महंगाई भत्ते को 50% से शुन्य किया जाएगा, तो नियमानुसार एचआर को 24% किया जाएगा। वर्तमान में, कर्मचारियों को उनकी कैटिगरी के हिसाब से एचआर दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना

Leave a comment